Vijay Shekhar Sharma Biography in Hindi

Paytm उन सर्विसेज में से एक है जो आजकल सभी फोन्स में पाए जाते है। इसे भारत की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक माना जाता है। इसके फाउंडर “विजय शेखर शर्मा” है, जिन्होंने इसे नंबर वन पेमेंट एप्लीकेशन में स्थापित किया। अभि के समय में ये Paytm के CEO और 2021 में 2.3 बिलियन डॉलर की कंपनी के मालिक है।

Uttar Pradesh के अलीघढ़ जैसे छोटे शहर के रहने वाले विजय शेखर शर्मा ने आज के समय पर भारत के 100 रिचेस्ट पर्सन में से 92वें पर्सन है। और उसके साथ ही उनका नाम बिलिनियर की लिस्ट में 1362वें नंबर पर आता है।

Vijay Shekhar Sharma

Early Life

विजय शेखर का जन्म 7 जून 1978 को भारत के उत्तर प्रदेश डिस्ट्रिक्स के अलीघढ़ शहर में हुआ था। इनके पिता सुलोम प्रकाश शर्मा एक स्कूल टीचर और इनकी माँ आशा शर्मा एक हाउस वाइफ थी।

इन्होने अपनी स्कूल एजुकेशन को हिंदी मीडियम स्कूल में किया था, जो की अलीघढ़ के एक छोटे टाउन हर्दुआगंज था। उसके बाद इंजीनियरिंग के लिए Delhi college of engineering (अब Delhi technological university) में अपनी ग्रेजुएशन को पूरा किया।

एक हिंदी मीडियम के स्टूडेंट होने के बावजूद इन्होने खुद ही इंग्लिश को सीखा। ब्लूमबर्ग न्यूज के एक इंटरव्यू में बताया की, “मै Rock Songs को सुनकर अपने आप इंग्लिश को समझना और पढ़ना सीखा था।”

1997 में जब ये कॉलेज में पढ़ रहे थे तब इन्होने इसके साथ indiasite.net नाम की वेबसाइट को शुरू किया था। हालाँकि 2 साल बाद उसे 1 मिलियन डॉलर में बेच दिया।

2000 में One97 communications की शुरुआत की, जिसमे news, cricket score, ringtones, jokes और exam results जैसे मोबाइल कंटेंट को प्रोवाइड किया जाता था।

Paytm को 2010 में लॉन्च किया गया था और One97 इसकी पैरेंट कंपनी है। लगभग 25 मिलियन की डेली ट्रांसेक्शन के साथ Paytm के 400 मिलियन से अधिक यूजर्स है। और 2018 में वारेन बफेट ने Paytm में 300 मिलियन डॉलर की इन्वेस्टमेंट की थी।

विजय शेखर की शादी 2005 में Mridula Parashar Sharma से हुयी। और इन दोनों का एक बच्चा भी है, जिसका नाम विवान शर्मा है।

Entrepreneurship

विजय शेखर अपने कॉलेज के दौर से ही Yahoo से काफी ज्यादा इंस्पायर थे और इसी के लिए वो Stanford University में आगे की पढ़ाई करना चाहते थे। हालाँकि पैसों की तंगी के चलते उन्हें वहाँ जाने का मौका नहीं मिला।

हालाँकि जहाँ सभी स्टूडेंट्स प्लेसमेंट की तरफ दौड़ रहे थे, तब विजय शेखर अपने दोस्तों के साथ One97 communications को स्थापित कर रहे थे। जिसमे news, cricket score, ringtones, jokes और exam results जैसे मोबाइल कंटेंट को प्रोवाइड किया जाता था।

जब वो कंपनी के लिए फण्ड पाने की चाह में थे, तब 24 प्रतिशत ब्याज के साथ 8 लाख का लोन लिया। जिसे चुकाने के लिए विजय शेखर को कई अच्छी और खराब जॉब्स को करना पड़ा।

आज के समय में One97 भारत की जानी-मानी मोबाइल-इंटरनेट कंपनियों में से एक है। और mobile advertising, marketing और payments जैसे सर्विसेज प्रोवाइड कराता है।

Paytm

paytm को अगस्त 2010 में नॉएडा, दिल्ली एनसीआर में स्थापित किया गया, जिसे विजय शेखर ने 2 मिलियन डॉलर के इन्वेस्टमेंट से शुरू किया था। शुरुआत में DTH recharge और prepaid mobile recharge जैसे सर्विसेज दी गयी। और 2013 में डाटा कार्ड, पोस्टपेड मोबाइल और लैंडलाइन बिल जैसे पेमेंट्स का ऑप्शन भी आ गया। और समय के साथ Paytm में बदलाव होता रहा। अभी के समय में इसे आप 24×7 यूज कर सकते है।

Demonetization

8 नवम्बर 2016 में जब भारत सरकार ने demonetization की announcement करि और पैसों की अदला-बदली होने लगी। जिसके चलते कई बिजनेस बंद हो गए और कई घाटे में चले गये और इसके बाद ही सभी धीरे-धीरे ऑनलाइन पेमेंट मेथड को अपनाने लगे। वैसे तो demonetization भारत की कॉमन पब्लिक के लिए अब तक का सबसे बड़ा डिजास्टर साबित हुआ। तो वहीं Paytm जैसी ऑनलाइन मनी ट्रासंफर कम्पनियों के लिए इसने बूस्टर का काम किया था। और उस समय Paytm को सबसे बड़ा बूस्टर मिला।

After Demonetization

Demonetization का असर जैसे-जैसे जाने लगा और लोग कैश में लेन-देन करने लगे और PhonePe, Google Pay जैसे कई मोबाइल बैंकिंग वॉलेट्स के चलते Paytm को घाटा होने लगा। पर इससे विजय शेखर के अर्निंग को कोई भी इफेक्ट नहीं हुआ।

फिलहाल विजय शेखर का PAYTM में Paytm Mall, e-commerce business और Paytm Payments Bank जैसे इन्वेस्टमेंट जारी है। और One97 communications ने paytm का IPO लॉन्च किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.