आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस क्या है? – Artificial Intelligence in Hindi

Internet के साथ ही हमने Artificial Intelligence को भी जाना है, और जाने-अनजाने में हम इनका इस्तेमाल करते आ रहे हैं।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेन्स (AI) पिछले काफी समय से मौजूद है। सर्च इंजन पर Quick Suggestions और Smartphones में Auto Focus से लेकर shopping centers और सभी technology अब Artificial Intelligence से लैस होकर आ रहें हैं।

और internet के साथ ही हम Artificial Intelligence को जाने-अनजाने में  इस्तेमाल करते आ रहे हैं।

Business के हर कदम पर AI का इस्तेमाल हो रहा है, और Ultimate Growth में इनका भारी योगदान हो रहा है। और ये धीरे Future को बदलते जा रहें हैं।

ऐसे में अगर आपको इनके बारे में नहीं पता तो ये आर्टिकल आपके लिए ही है।

आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस क्या है

आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस क्या है?

आर्टिफिशियल इंटेलिजेन्स या AI, Computer Science की एक Branch है। इसे Smart Machine या फिर ये कहे की, इसका इस्तेमाल technology को improve करने में किया जा रहा है। जो की एक तरह से इन्सानो की तरह और हमारे कामों को आसान बनाते है।

Artificial Intelligence को एक तरह से इन्सानों का मिमिक के हिसाब से बनाया गया है। सीधे शब्दों में कहें तो, AI को इन्सानों की तरह सोचने, समझने और काम करने के लिए बनाया गया है। समय के साथ इन्हें और भी updated बनाया जा रहा है।

इसके लिए इन्हे कुछ स्टेजेस से गुजरना होता है:

Computational system, data management और advanced AI algorithms के साथ और अधिक data, processing power की जरुरत है।

ये चार तरीकों के होते हैं :

जिन्हे Self Awareness, Reactive Machines, Limited Memory और Theory of Mind के नामों से जाना जाता है।

Origin of Artificial Intelligence

AI की शुरुआत लगभग 18वीं शताब्दी के अंत और 19वीं शताब्दी के शुरुआत में ही हो गया था। और धीरे-धीरे छोटे-छोटे स्टेप्स के साथ इसकी इम्प्रूवमेंट हो रही थी।

पर 1955 में Artificial Intelligence शब्द को John McCarthy के जरिये सुना गया था। 1956 में, McCarthy और कुछ अन्य organization के साथ Dartmouth Summer Research Project on Artificial Intelligence नाम का कांफ्रेंस रखा था।

इसके बाद Machine learning, Deep लेया, predictive analytics पर prescriptive analytics का निर्माण किया गया।

और इसकी की वजह से एक नई Field of Study का जन्म दिया, जिसे हम DATA SCIENCE कहते है।

Artificial Intelligence के फायदे

AI के जरिये कठिन से कठिन निर्णय लेने में माहिर होते हैं, ठीक उसी तरह हम उसके कुछ फायदों को देख लेते हैं।

1. Minimum Errors

आर्टिफिशियल इंटेलिजेन्स का उपयोग करके रेगुलर कामों को ऑटोमेटिक करना ज्यादा बेनिफिट्स प्रोवाइड कराता है, और AI के मदद से कम से कम गलतियाँ होती हैं।

और क्योंकि एक Robotic process Automation tool data entry और processing jobs का ध्यान रखते हैं, ये डिजिटल सिस्टम को और आसान और कम मिस्टेक्स प्रोवाइड करते हैं।

ये उन कामों के लिए ज्यादा बेनेफिशियल हैं, जिन्हें छोटी से छोटी गलती भी भारी पड़ती है।

Business Efficiency

हम अगर एक इंसान की बात करें तो वो लगातार 24 घंटे काम नहीं कर सकते, पर वहीं पर Artificial Intelligence हमारे इस काम को आसान बना देते हैं। और ये चीज किसी भी काम को तेज और कम लागत वाला बना देता है।

Complex Problems को Solve करना

AI टेक्नोलॉजी को बेसिक मशीन लर्निंग से एडवांस्ड डीप लर्निंग के मॉडल पर बनाया गया है, जो कठिन से कठिन दिक्कतों को हल करने माहिर हैं। फ्रॉड डिटेक्शन, कस्टमर्स से इंटरैक्शन से लेकर मौसम की जानकारी और मेडिकल में इनका काम आता रहता है।

और ये ज्यादा इम्पोर्टेन्ट इसलिए हो जाते हैं, क्योंकि ये कठिन प्रॉब्लम्स को सॉल्व करना, प्रोडक्ट्स में क्वालिटी और खर्च में कमी लाता है।

निष्कर्ष

इस समय में आर्टिफिशियल इंटेलिजेन्स के कई और भी काम हैं, जिन्हे काफी विस्तार में समझने और काफी डीप में जाना पड़ेगा। पर इन जानकारियों से हम ये समझ सकते हैं की AI टेक्नोलॉजी हमारे दैनिक जीवन को काफी आसान बना रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *