अर्पानेट क्या है – Arpanet in Hindi

क्या आपने कभी Arpanet के बारे में सुना है? ये क्या होता है और किसमे काम आता है? जिन्होंने सुन रखा है उनके लिए यह आर्टिकल लाभदायक होगा और जिन्होंने नहीं सुना है वो इस आर्टिकल को पढ़कर जरूर जान जायेंगे। बिना समय व्यर्थ करे टॉपिक की और बढ़ते है।

फुल फॉर्म ऑफ़ अर्पानेट

अर्पानेट का फुल फॉर्म advanced research projects agency network है. ये दुनिया का पहला ऐसा नेटवर्क था जिसमे TCP/IP मॉडल का इस्तेमाल किया गया था।  यह एक वाइट एरिया नेटवर्क है। इसकी खोज इसलिए की गयी क्योकि उस समय डिपार्टमेंट ऑफ़ डिफेन्स के कर्मचारियों के पास आपस में डाटा ट्रांसफर करने  के लिए कोई सुविधा नै थी। आगे चल कर इसने इंटरनेट का रूप धारण कर लिया।

अर्पानेट क्या है?

अर्पानेट एक ऐसा नेटवर्क है जिसने सबसे पहले इंटरनेट का आगाज़ किया था। इसे 1947 में पब्लिश किया गया और आगे चलकर अर्पानेट को ARPA ने develop किया। अर्पानेट एक ऐसा नेटवर्क है जिसमे एक सिंगल नेटवर्क को multiple computers से जोड़ा जा सकता है। यह communicate करने के लिए पैकेट स्विचिंग टेक्नोलॉजी का इस्तमाल करता है। पहले के समय में इसको बनाने का उद्देश्य  यह था की अपनी  organisation में resources को share कर सके।  कुछ समय बाद TCP/IP का आगाज़ हुआ। इस नेटवर्क की एक विशेषता यह है की इसकी size expand की जा सकती है।  TCP/IP के आ जाने से LAN को अरपानेट से आसानी से connect किया जा सकता था. परन्तु 1980 में LAN की संख्या इतनी बढ़ गयी कि उन्हें arpanet से जोड़ पाना मुश्किल और महंगा हो गया था। 1990 में अर्पानेट को बंद करदिया गया। कुछ समय बाद कंप्यूटर scientist Tim Berners Lee ने वर्ल्ड वाइड वेब का invent किया।

Arpanet

अर्पानेट की विशेषताएँ

1) यह मूल रूप से WAN का एक प्रकार है।
2) इसमें पैकेट स्विचिंग नेटवर्क की अवधारणा का उपयोग किया गया था।
3) इसने उप-नेटिंग के लिए इंटरफेस मैसेज प्रोसेसर्स (IMP) का इस्तेमाल किया गया है।
4) ARPANETs सॉफ्टवेयर को दो भागों में विभाजित किया गया था- एक मेजबान और एक सबनेट।

अर्पानेट के फायदे

  1. ARPANET को परमाणु हमले के लिए डिज़ाइन किया गया था।
  2. इसका उपयोग ई-मेल के माध्यम से सहयोग के लिए किया गया था।
  3. इसने महत्वपूर्ण फाइलों के डेटा के हस्तांतरण में एक उन्नति पैदा की।

अर्पानेट के नुकसान

  1. लैन कनेक्शनों की संख्या में वृद्धि से निपटने में कठिनाई हुई।
  2. यह प्रौद्योगिकी में प्रगति के साथ सामना करने में असमर्थ था।

निष्कर्ष

इस आर्टिकल पढ़ने के बाद अर्पानेट से जुडी सारी information आपको मिल गयी होगी। इस आर्टिकल आपने  पढ़ा अर्पानेट क्या है, इसकी विशेताएं क्या है, इसके नुकसान और फायदे क्या है। आपको इस आर्टिकल related कोई भी सवाल हो आप हमे नीचे कमेंट  सेक्शन में बा सकते है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *